E-commerce क्या है? | What is E-commerce Meaning in Hindi

E-commerce क्या है in hindi : नमस्कार दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको E-commerce
क्या होता है इसके बारे में जानकारी बताएंगे वैसे तो आप सभी जानते होंगे वैसे भी आज का यह इंटरनेट
का युग है जहां देखो सभी जगह डिजिटल काम होते जा रहे हैं जिसके कारण से भी आज के समय में ई-
कॉमर्स को बढ़ावा दे रहे हैं।

अगर हम बात करें तो पूरी दुनिया इलेक्ट्रॉनिक तकनीक में बदलती जा रही है और सभी बिजनेस इंटरनेट
के माध्यम से और ज्यादा बढ़ रहे हैं। आज के समय में लोग बिजनेस करते हैं तो वह सबसे ज्यादा इंटरनेट
का इस्तेमाल करते हैं।

क्योंकि इंटरनेट के द्वारा अपने बिजनेस को लोगों तक पहुंचाया जा सकता है। इसी के कारण सभी व्यक्ति
ऑनलाइन शॉपिंग करना ज्यादा पसंद कर रहे हैं।

ऑनलाइन शॉपिंग करने में लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं जाती है और घर बैठे अपने
मनपसंद चीजों को प्राप्त कर लेते हैं। आज गूगल पर इतनी बड़ी बड़ी वेबसाइट, और Mobile App
गए हैं जिसके द्वारा भी हम E-commerce कर सकते हैं।

इस इंटरनेट के युग में आपने भी ई-कॉमर्स के बारे में सुना ही होगा आइए जानते हैं ई कॉमर्स क्या होता है
हम आज इस लेख में ई-कॉमर्स के बारे में विस्तार से सभी जानकारी बताएंगे इसलिए आप लेख अंत
तक जरूर पढ़ें।

E-commerce क्या है? (What is E-commerce in Hindi)

दोस्तों आपको बता दें कि साल 1960 में ई कॉमर्स की शुरुआत हुई थी E-commerce का पूरा नाम
इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स है इसे तीन और नाम से जाना जाता है वह तीन नाम इंटरनेट कॉमर्स, ई-कॉमर्स, और
इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स है इन सभी नामों का एक ही अर्थ होता है और यह अर्थ व्यापार करना होता है।

किसी भी व्यक्ति के द्वारा कोई भी सामान खरीदना, बेचना या ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करना, या किसी
भी प्रोडक्ट या किसी भी सर्विस को इलेक्ट्रॉनिक के द्वारा शेयर करना, या किसी भी व्यक्ति को डाटा
आदान-प्रदान करना यही सभी प्रक्रिया ई-कॉमर्स के द्वारा ही की जाती है और इसे ही ई-कॉमर्स कहते हैं।

आज के समय में यह जो भी सामान हम इंटरनेट के द्वारा खरीदते हैं वह सब ई-कॉमर्स के अंतर्गत आता है
आप सभी जानते हैं कि ई-कॉमर्स का बिजनेस धीरे-धीरे पूरी दुनिया में बहुत तेजी से फैल रहा है।

एक वर्ल्ड रिकॉर्ड से खुलासा हुआ है कि लगभग पिछले चार-पांच साल में यह बिजनेस इतना तेजी से
फैला है कि आज हमें दुनिया ने Amazon, मीशो,और फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी-बड़ी ई-कॉमर्स प्लेटफार्म दिए हैं।

E-commerce का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि कोई भी व्यक्ति कहीं पर भी अपने पसंद से ई-
कॉमर्स के द्वारा सामान को ऑर्डर कर सकता है जिसकी डिलीवरी भी आपके घर होती है।

आज इंटरनेट के माध्यम से लोगों की जिंदगी बदल गई है लेकिन आज भी टियर 3 शहरों में आज भी
लोगों को इस कॉमर्स के बारे में जानकारी नहीं है वह यह नहीं जानते कि ई-कॉमर्स होता क्या है।

उन लोगों के घर आज भी बनिए की दुकान से सामान आता है इस इंटरनेट के युग के बाद भी यह लोग
कोई फायदा नहीं ले रहे हैं लेकिन आने वाले समय में यह भी ई-कॉमर्स का उपयोग करने लगेंगे।

E-commerce हमारे लिए क्यों जरुरी है ?

E-commerce आजकल व्यापार के लिए बहुत महत्वपूर्ण हो गया है और इसकी आवश्यकता बढ़ती जा
रही है। यह कई कारणों से हमारे लिए जरूरी है। नीचे कुछ मुख्य कारण दिए गए हैं:

  • E-commerce व्यापार को ऑनलाइन माध्यम से हम अपने बिजनेस को बहुत बड़ा कर सकते हैं
    यह आपको न केवल आपकी स्थानीय बाजार में बिक्री करने की अनुमति देता है, बल्कि आपको
    अन्तरराष्ट्रीय बाजारों तक अपने उत्पाद और सेवाओं की पहुंच प्राप्त करने में मदद करता है।
    इससे आपका व्यापार का विस्तार होता है और आप अधिक ग्राहकों को सेवा प्रदान कर सकते
    हैं।
  • E-commerce खरीदारी को सुविधाजनक और आसान बनाता है। ग्राहक अपने उत्पादों को
    ऑनलाइन खोज सकते हैं, उत्पादों की विशेषताओं को देख सकते हैं, मूल्यों की तुलना कर
    सकते हैं, और आप्शंसिक समीक्षाएं पढ़ सकते हैं।
  • E-commerce की एक महत्वपूर्ण लाभ है कि इसमें आपको दुकान किराए पर नहीं लेनी पड़ती है
    और आपको शारीरिक व्यय जैसे किराए, बिजली और स्थान की चिंता नहीं करनी पड़ती है। साथ
    ही, आपको वस्त्र रखरखाव, इन्वेंटरी नियंत्रण और कागजात से जुड़ी अन्य चिंताएं भी नहीं होती
    हैं। इससे आपकी लागत कटौती होती है और आप उत्पादों को आपत्ति की अवधि में प्रदर्शित
    कर सकते हैं, जिससे बेचने में मदद मिलती है।
  • E-commerce के माध्यम से खरीदारी करने से हमें सुविधाजनक और तेज लेनदेन का लाभ होता
    है। हम ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं।
  • E-commerce हमें अपने घर से बाहर निकलकर खरीदारी करने की आवश्यकता नहीं होती है।
    हम अपने समय और श्रम को बचा सकते हैं और ऑनलाइन मार्केटप्लेस के माध्यम से घर बैठे
    विभिन्न उत्पादों और सेवाओं को आसानी से खरीद सकते हैं।

Types Of E-commerce in Hindi (E-commerce के प्रकार)

दोस्तों E-commerce आज के समय में तो कई प्रकार के होते हैं लेकिन इन सभी मैं से हम मुख्यता 4 E-
commerce बिजनेस के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं क्योंकि इन्हीं चारों का उपयोग हम अपने बिजनेस
को शुरुआत करने में करते हैं आइए जानते हैं यह कौन कौन से बिजनेस है जिसके द्वारा हम एक सफल
बिजनेस खोल सकते हैं जैसे कि-

  • B2B E-commerce
  • B2C E-commerce
  • C2B E-commerce
  • C2C E-commerce

Business To Business E-commerce ( B2B )

B2B ई-कॉमर्स में व्यापारियों के बीच व्यापार होता है। यहाँ एक व्यापारी दूसरे व्यापारी को सामग्री, उत्पाद
या सेवाएं बेचता है जो उनके व्यापार की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए उपयोग होती है। यह बड़े
व्यापार नेटवर्क और आपूर्ति श्रृंखलाओं के बीच आमतौर पर होता है।

Business To Consumer ( B2C )

B2C ई-कॉमर्स में व्यापारी उपभोक्ताओं को सीधे उत्पाद या सेवाएं बेचता है। यह विक्रेताओं और ग्राहकों
के बीच संबंध स्थापित करता है और ग्राहकों को ऑनलाइन खरीदारी करने की सुविधा प्रदान करता है।
यह उदाहरण के रूप में ई-कॉमर्स वेबसाइट, ई-मार्केटप्लेस, ऑनलाइन रिटेलर्स, और ड्रॉपशिपिंग को
मिलाता है।

Consumer To Business ( C2B )

C2B ई-कॉमर्स में उपभोक्ता व्यापारियों को सीधे अपनी सेवाओं या उत्पादों की पेशकश करता है। इसमें
उपभोक्ताओं को व्यापारियों के लिए सेवाएं प्रदान करने, निवेश करने, या उत्पादों की पेशकश करने का
अवसर मिलता है। उदाहरण के रूप में, ब्लॉगर या सामाजिक मीडिया प्रभावकर्ता अपने स्थान पर
संबंधित कंटेंट या समीक्षाएं प्रदान करके विभिन्न ब्रांड्स के लिए प्रमोशनल सामग्री बना सकते हैं।

Consumer To Consumer ( C2C )

C2C ई-कॉमर्स में उपभोक्ताएं सीधे अन्य उपभोक्ताओं के साथ व्यापार करती हैं। इसमें उपभोक्ताएं
अपने उपयोग में नहीं रखे उत्पादों या सामग्री को इंटरनेट प्लेटफॉर्म के माध्यम से बेचती हैं। यह
व्यक्तिगत लेन-देन को सुविधाजनक बनाने के लिए एक मंच प्रदान करता है। इसमें उदाहरण के रूप में
ऑनलाइन मार्केटप्लेस और क्लासीफाइड वेबसाइटें शामिल होती हैं जहां उपभोक्ताएं अपने पुराने
उत्पादों को बेचती या खरीदती हैं।

दो और प्रकार के टाइप्स होते है –
Business-to-Administration (B2A)
Consumer-to-Administration (C2A)

E-commerce के फायदे ( Advantages Of E-Commerce in Hindi )

हम E-commerce के द्वारा घर बैठे विभिन्न प्रकार के बिजनेस में फायदा ले सकते हैं आइए जानते हैं इन
फायदे के बारे में –

  • E-commerce के द्वारा कोई भी व्यक्ति घर बैठे नेशनल इंटरनेशनल बिजनेस को आसानी से कर सकता है।
  • आज के समय में पूरी दुनिया में ई कॉमर्स एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां पर आप को एक साथ सभी सामान आसानी से मिल जाते हैं।
  • E-commerce के द्वारा सभी ग्राहकों को समय-समय पर मुनाफा होता रहता है।
  • E-commerce का सभी लोगों को सबसे बड़ा फायदा यह है कि इस प्लेटफार्म पर आप 24 घंटो में कभी भी सामान खरीद सकते हैं, यह कभी भी बंद नहीं रहता है।
  • E-commerce के द्वारा ग्राहकों के लिए कंपनी समय-समय पर डिस्काउंट और कूपन कोड निकालते रहती है जिससे लोगों को फायदा मिलता है।

E-commerce के नुकसान – (Disadvantages of E-Commerce in Hindi)

E-commerce के द्वारा यदि कोई व्यक्ति व्यापार करता है तो उसे विभिन्न प्रकार के नुकसान होने की भी
चांस रहते हैं आइए जानते हैं ऐसे क्या क्या कारण है जिससे ई-कॉमर्स के द्वारा हमें नुकसान हो सकते हैं।

  • यदि कोई भी व्यक्ति ई-कॉमर्स के द्वारा व्यापार करता है तो उसे ऑनलाइन सामान बेचने में नुकसान हो सकता है कई बार ग्राहक अच्छा सामान लेकर पुराना सामान दे देते हैं।
  • ई-कॉमर्स के द्वारा यदि हम कोई भी ऑनलाइन सामान बुलाते हैं तो हमें बैंक की जानकारी देना रहता है कभी-कभी यह बैंक की जानकारी से हमारे लिए फ्रॉड गिरी बन जाती है।
  • ई-कॉमर्स में सबसे ज्यादा परेशानी यह होती है कि किसी भी व्यक्ति की जरूरत की चीज इस पर मिल तो जाती है लेकिन वह सही साइज की नहीं मिलती है।
  • ई-कॉमर्स के द्वारा कई बार हम कोई सामान बुलाते हैं तो वह खराब निकल जाता है जिसके कारण हमें नुकसान झेलना पड़ता है।

निष्कर्ष –

दोस्तों आज की इस लेख में हमने आपको ई-कॉमर्स क्या होता है इसके बारे में जानकारी दी है आज के
इस इंटरनेट के युग में आपकी कॉमर्स के द्वारा घर बैठे कुछ भी सामान आसानी से बुला सकते हैं।

हमने ई-कॉमर्स से जुड़ी सभी जानकारी आज के इस लेख में आपके लिए साझा की है। आशा करते हैं
दोस्तों हमारे द्वारा दी गई जानकारी से आप खुश होंगे और यह सभी जानकारी आपको अच्छी लगी
होगी धन्यवाद।

E-commerce क्या है?

E-Commerce इंटरनेट के माध्यम से व्यापार(business) का संचालन करना है। हम केवल खरीदना और बेचना, बल्कि ग्राहकों के लिये सेवाएं और व्यापार के भागीदारों के साथ सहयोग भी इसमें शामिल कर सकते है। बुनियादी ढांचे, उपभोक्ता और मूल्य वर्धित प्रकार के व्यापारों के लिए इंटरनेट कई अवसर प्रस्तुत करता है।

E-commerce के प्रकार

ई-कॉमर्स के मुख्यतया 4 प्रकार के होते है। ई-कॉमर्स के अंतर्गत लेनदेन या तो बिज़नेस-टू-बिज़नेस (B2B), बिज़नेस-टू-कंज्यूमर (B2C), कंज्यूमर-टू-कंज्यूमर (C2C) या कंज्यूमर-टू-बिज़नेस (C2B) के रूप में होते हैं।

अन्य पढ़ें – 

Leave a Comment